Sunday, 26 February 2017

/.. मौसम बदल गया हैsssss !! .. दिल्ली में फॉग साफ़ - कचरा साफ़ - प्रदूषण गायब - मौसम रंगीन - बसंत बहार - बागों में बहार .. .. अब अंजना ओम कश्यप और संबित पात्रा को निर्बाध साँसे लेने में कोई दिक्कत नहीं .. दिल्लीवासियों के मुंह से भी मास्क गायब .. .. और दिल्ली स्थित राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय मीडिया की भी अब दूरदृष्टि ही चालू - निकटदृष्टि बंद .. यानि अब दिल्ली लोकल में क्या हो रहा है अब क्या करना धरना ?? .. है ना !! .. ..

कारण ?? .. पंजाब गोवा में जहां से 'आप' पार्टी मैदान में थी वहां मतदान शुरुआत में ही संपन्न हो गए - और अब तो विशेष रूप से यूपी जहां से 'आप' पार्टी चुनाव में किसी की ऐसी की तैसी नहीं कर रही है वहां के अंतिम चरण ही चल रहे हैं  - और इसलिए वहां प्रदूषण आदि की बातें ना होकर प्रदूषित बातें हो रही हैं .. वहां तो गधों जैसे ऊटपटांग और साम्प्रदायिकता की बातें ही चल रही हैं .. और मीडिया भी गधों जैसे दिन रात अपने काम में दूरदृष्टि के साथ लगा पड़ा है .. ..

मैं कहता ना था .. अब दिल्ली दूर नहीं - विशेषकर दिल्ली में बैठ और पैठ जमाकर केजरीवाल के लिए तो बिलकुल भी नहीं .. !! जय हिन्द !!

मेरे दिमाग की बातें - दिल से .. ब्रह्म प्रकाश दुआ

No comments:

Post a Comment